Loan ke Prakar | भारत में कितने प्रकार के लोन दिए जाते हैं

अगर आप भी लोन लेना चाहते हैं तो यहां पर कई प्रकार के लोन के बारे में बताया गया है जहां से आप Loan ke Prakar देख सकते हैं कि कौन सा लोन आपकी जरूरत के अनुसार सही रहेगा|

आज हम जानेंगे भारत के अंदर कितने प्रकार के लोन होते हैं जो कि भारतीय बैंकों द्वारा दिए जाते हैं|

Bharat main loan ke Prakar

1- होम लोन (Home loan)
2- प्रॉपर्टी लोन (Loan against property)
3- बीमा पॉलिसी लोन (loan against insurance policies)
4- गोल्ड लोन (Gold loans)
5- म्यूचुअल फंड और शेयर लोन (loans against mutual fund and shares)
6- फिक्स्ड डिपाजिट लोन (loans against fixed deposit)
7- पर्सनल लोन (personal loan)
8- बिज़नस लोन (short term business loan)
9- फ्लेक्सी लोन (Flexi loans)
10-एजुकेशन लोन (Education loan)
11- वाहन लोन (vehicle loan)

सही लोन चुनने के लिए परामर्श:

  • सबसे पहले यह जाने कि जिस लोन को लेने के बारे में आप सोच रहे हैं उस Loan ke Prakar के लिए आप योग्य भी है या नहीं ?
  • इसके लिए सबसे पहले आप अपना क्रेडिट स्कोर चेक करवा सकते हैं जिससे कि यह पता चलेगा कि आप लोन के लिए योग्य हैं या नहीं|
  • उसके बाद यह तय करें कि आपको लोन किस चीज के लिए चाहिए|
  • उस लोन के लिए आपको लोन का राशी (amount) कितना चाहिए|
  • जिस Prakar ke loan को आप ले रहे हैं उसके लिए आपको ब्याज दर क्या देनी पड़ रही है|
  • फिर उसके बाद उसी प्रकार के लोन के लिए अलग-अलग बैंक का ब्याज दर देखें और तय करें करें आपको किस बैंक से लोन लेना है

आज के समय में समझ सकते हैं जितनी इंसान की आमदनी नहीं बढ़ रही उससे ज्यादा महंगाई बढ़ रही है और जरूरत समान है, इस कारण इंसान को कहीं ना कहीं पैसे की जरूरत पड़ी जाती है और उसकी वजह से वह लोन की तरफ अग्रसर होता है|

लोन एक वह जिम्मेदारी है जो कि आपकी जरूरत के समय बैंक के द्वारा प्राप्त कराई जाती है और समय आने पर आपको उस राशि को ब्याज के समय वापस करना पड़ता है|

भारत में वैसे तो कई Loan Ke Prakar जो 3 category के अंदर आते हैं:

सिक्योर्ड लोन (secured loan)

अनसिक्योर्ड लोन (unsecured loan)

फ्लेक्सी लोन (Flexi Loan)

A- सिक्योर्ड लोन क्या है (what is secured loan)

सिक्योर्ड लोन वह लोन होते हैं जिसमें आपको आपकी कोई संपत्ति सिक्योरिटी के तौर पर देनी होती है जहां से आप लोन लेते हैं|
यह इसलिए जरूरी होता है कि अगर आप लोन की राशि नहीं चुका पाते हैं तो आपके द्वारा दी गई चीज पर कब्जा करके लोन की कुछ भरपाई हो जाए इसीलिए आप से लोन के बदले में संपत्ति गिरवी रखवाई जाती है|

Secured Loan ke Prakar (Types of secured loan)

होम लोन (Home loan)
होम लोन को सबसे ज्यादा सुरक्षित (Secured) लोन माना जाता है| होम लोन के अंतर्गत आप बैंक से पैसा ले सकते हैं अपनी मर्जी से अपना घर बनाने के लिए, खरीदने के लिए|

Home Loan ke Prakar

ज़मीन या प्लाट खरीदने के लिए लोन इस लोन के द्वारा आप अपने लिए कोई नयी ज़मीन या प्लाट खरीद सकते हैं|
होम कंस्ट्रक्शन लोन: नया घर बनाने के लिए होम लोन
होम लोन बैलेंस ट्रांसफर: इसमें आप अपना पहले का बचा हुआ लोन दूसरी जगह ट्रांसफर कर सकते हैं जहां पर ब्याज दर कम होती है|
टॉप अप लोन: इस लोन के साथ आप अपने घर में छोटा मोटा काम करा सकते हैं जैसे के घर की सजावट या घर की टूट-फूट सही करवा सकते हैं|

सूचना: जब भी आप कोई नया प्रॉपर्टी खरीदते हैं तो उस समय आपको 10 से 20% कुल लागत का हिस्सा बैंक को प्रदान करना होता है और बाकी का बचा हुआ पेमेंट बैंक लोन के तौर पर आपको देती है और इसमें भी आपकी इनकम और आपके खाते में दर्शाए गए वर्तमान कर्जे के ऊपर निर्भर करता है कि बैंक आपको कितना लोन देगी|

Home Loan Documents List PDF India 2021

संपत्ति पर लोन (Loan Against Property (LAP)
इस लोन को आप इसके नाम से ही समझ सकते हैं, और यह सबसे साधारण तरीका होता है लोन लेने का|
अगर आपके पास इनमे से किसी भी प्रकार की प्रॉपर्टी है, रेजिडेंशियल, कमर्शियल या इंडस्ट्रियल तो आप बड़ी ही आसानी से लोन ले सकते हैं|

आप किसी भी बैंक मैं जाकर अपनी इन प्रॉपर्टी के बदले में लोन ले सकते हैं जिसमें कई बैंक आपको आप की प्रॉपर्टी की वैल्यू का 80% लोन दे देते हैं और कई बैंक में सिर्फ आपको 50 से 60% लोन ही मिलेगा आपकी प्रॉपर्टी के बदले में|

इंश्योरेंस पॉलिसीज के बदले में लोन (Loan Against Insurance policies)

जी हां अगर आपके पास आपकी इंश्योरेंस पॉलिसी है तो उसके बदले में आपको लोन भी मिल सकता है पर इसमें हर तरीके की इंश्योरेंस पॉलिसी नहीं चलेगी जिन पॉलिसीज पर लोन मिलता है और वह होती हैं एंडोवमेंट फंड मनी बैक पॉलिसी जिनकी एक समय अवधि होती है जब उन पॉलिसीज का पैसा मिलता है

अगर आपके पास टर्म इंश्योरेंस प्लान है तो उस पर आपको लोन नहीं मिल सकता क्योंकि इसका कोई मैच्योरिटी नहीं होता है|
सीधे तरीके से आप बस यह समझ लीजिए अगर आपने आज कोई 1500000 की पॉलिसी करी है जिसकी समय अवधि है 7 साल और 7 साल के बाद आपको 1500000 रुपए मिल जाएंगे इस तरीके की पॉलिसी पर आपको लोन मिल सकता है||

गोल्ड लोन (Gold Loan)

 लोन के बारे में जानकारी सभी लोग जानते ही होंगे कि गोल्ड लोन वह लोन होता है जिसमें आप अपना सोना गिरवी रखते हैं और आपके सोने की जितनी भी कीमत होती है उसके बदले में कुछ परसेंटेज काटकर आपको लोन दिया जाता ह|

इसीलिए सोने को सबसे ज्यादा मजबूत संपत्ति माना जाता है गोल्ड लोन को लोग ज्यादातर कम समय के लिए ही लेना पसंद करते हैं और इसकी पेमेंट वापस करने की समय अवधि कम होती है, होम लोन और लैप लोन को देखते हुए|

म्युचुअल फंड और शेयरों पर लोन (Loan against mutual funds and shares)

इस प्रकार के लोन के लिए आपको बैंक के साथ एक लोन का एग्रीमेंट करना पड़ेगा जिसमें आपको बताना होगा कि आप लोन लेने के लिए अपनी इस संपत्ति को बैंक को प्रदान करते हैं|
उसके बाद यह एप्लीकेशन आपके म्यूच्यूअल फंड और शेयर्स देने वाली कंपनी के पास जाएगी वहां से अप्रूव Approve होकर आते ही आपको आपके शेयर्स और म्यूच्यूअल फंड्स के बदले में लोन मिलेगा|
लोन की राशि 60 से 70 परसेंट तक आपको मिल सकती है ये निर्भर करती है आपके म्यूच्यूअल फंड और शेयर की कीमत पर|

FD के बदले में लोन (Loan against fixed deposit)
फिक्स डिपाजिट का मतलब होता है एक तय की गई अवधि के लिए अपना पैसा बैंक में फिक्स करना

जैसे: अगर आपने ₹ 2 लाख की FD करवाई है जिसकी अवधि है 5 साल तो आप अपने यह 2 लाख रुपये 5 साल के बाद ही निकाल सकते हैं जिसपर 5 साल के लिए आपको एक सुनिश्चित ब्याज दर मिलता है जो कि आम ब्याज से ज्यादा होता है|
और यदि आपने 5 साल से पहले ही अपने FD में से पैसे निकाल लिए तो आपको उस पैसे पर कोई ब्याज नहीं मिलेगा|

तो इस तरह सेआपको ₹200000 का 70 से 90 परसेंट लोन मिल सकता है और इस लोन की अवधि उतनी ही या उससे कम रहेगी जितनी आपकी FD की अवधि है|

B- Unsecured loans

असुरक्षित लोन वह लोन होते हैं जहां पर आपको पैसा तो आसानी से मिल जाता है आपके औधे और पिछली अकाउंट डिटेल (Cibil Score) चेक करके पर आपसे काफी ज्यादा ब्याज लिया जाता है|
अनसिक्योर्ड लोन सबसे ज्यादा महंगे लोन होते हैं जहां पर आपको लगभग 10.50% to 24% सालाना ब्याज जमा करना पड़ता है|

Unsecured Loan ke Prakar
Personal loan
Short term business loan

Personal loan
अनसिक्योर्ड लोन में पर्सनल लोन सबसे ज्यादा पॉपुलर लोन है जिसे के कोई भी बैंक बहुत ही शौक से और बहुत ज्यादा देने की कोशिश करती है और इसके लिए बड़े ही आसान तरीके से आपके सामने प्रस्ताव रखती है जिससे कि आप तुरंत इस ऑफर से प्रेरित होकर यह लोन लें|
इसका कारण ऊपर बताया था की अनसिक्योर्ड लोन की ब्याज सिक्योर्ड लोन से ज्यादा होती है क्योंकि इस लोन में आपसे कोई भी संपत्ति गिरवी नहीं रखी जाती इस कारण से इस की ब्याज दर ज्यादा रहती है|

इस लोन को लेने के लिए सिर्फ आपको दो चीजों की आवश्यकता होती है आप की अच्छी खासी सैलरी या कमाई दूसरा आपका क्रेडिट स्कोर यह दो चीजें ही काफी है आपको पर्सनल लोन लेने के लिए

ज्यादातर पर्सनल लोन क्यों लिए जाते हैं Personal loan ke prakar

  • घर में किसी की शादी के लिए
  • विदेश में पढ़ाई के लिए
  • घर की मरम्मत के लिए
  • छोटे छोटे लोन को एक साथ चुकाने के लिए
  • या बहुत ही जरूरी काम या आपत्तिजनक समस्याओं के लिए

Short term business loan
अनसिक्योर्ड लोन के अंदर पर्सनल लोन के बाद आप दूसरा लोन short term business loan ले सकते हैं बिजनेस में आई गई जरूरतों के लिए|

Short term business loan ke prakar
कार्यशील पूंजी ऋण (Working Capital Loan)
मशीनरी ऋण और उपकरण वित्त (machinery loan and equipment finance)
महिला उद्यमियों के लिए ऋण (Loans for women entrepreneurs)
व्यापारियों के लिए ऋण (Loans for Traders)
निर्माताओं के लिए ऋण (Loans for manufacturers)
सेवा उद्यमों के लिए ऋण (Loans for service enterprises)

C- Flexi loan

फ्लेक्सी का मतलब होता है यहां पर Flexible मतलब सुविधाजनक तो यह लोन भी वैसा ही है,
यह लोन भी लगभग पर्सनल लोन की तरह होता है|

इस लोन में आपको तीन बहुत शानदार तरीके की सुविधाएं दी जाती है|

पहली इस लोन में आपको एक क्रेडिट लिमिट दी जाती है बैंक के द्वारा तो उस क्रेडिट लिमिट के अनुसार जितना पैसा आपको चाहिए उतना पैसा आपके बैंक खाते में ट्रांसफर कर दिया जाता है|

दूसरा आप इस लोन को अपने अनुसार चुका सकते हैं जब आपके पास पैसा हो तब आप इस लोन को चुका सकते हैं|

तीसरी आपको ब्याज सिर्फ उसी पैसे पर देनी पड़ेगी जितना आपने अपने प्रयोग के लिए निकाला है ना कि उस पैसे पर जितनी आपको लिमिट दी गई है|

Flexi Loan Ke Prakar

Education Loan
Flexi Loan Ke Prakar के लिए एजुकेशन लोन एक सबसे बढ़िया उदाहरण है जैसे कि एजुकेशन एक ऐसा लोन है जिसे काफी ज्यादा समय तक के लिए भी लिया जाता है और कम समय के लिए भी लिया जाता है

एजुकेशन लोन को विदेश जाकर पढ़ाई करने के लिए भी लिया जाता है और देश में रहकर पढ़ने के लिए भी लिया जाता है निर्भर करता है आप किस तरीके की पढ़ाई कर रहे हैं और यदि आप कोई छोटा सा डिप्लोमा या कोर्स करना चाहते हैं उसके लिए भी एजुकेशन लोन ले सकते हैं

Vehicle loan

फ्लेक्सी लोन को आप व्हीकल लोन के लिए भी ले सकते हैं इसमें आप नया या पुराना दो पहिया वाहन या चार पहिया वाहन खरीद सकते हैं इसके लिए आपका क्रेडिट स्कोर देखा जाएगा और आपकी वर्तमान नौकरी और इनकम अगर ये दोनों चीज़ लोन की प्रक्रिया से मिल गए तो अप यह लोन आसानी से ले सकते हैं|

 

 

karja Kaise Kam Karen

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *