MSME में कौन से उद्योग आते हैं?

भारत में लगभग 6.3 करोड़ MSME हैं। MSME मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, 16 मई, 2021 तक, Udyam Registration Portal ने 30,00,822 एमएसएमई पंजीकृत किए| 

MSME UDHYOG INVESTMENT LIMIT AND TURNOVER LIMIT

सूक्ष्म (Micro) 1 करोड़ - 5 करोड़ लघु (Small) 1 से 10 करोड़- 1 से 25 करोड़ मध्यम (Medium) 10 से 50 करोड़ - 25 से 250 करोड़ 

MSME Industries कितने products बनती हैं?

MSME Industries कुल 6500 और 6500  से अधिक  products बनती हैं, जिसके कारण भारत की 40% आबादी को रोजगार मिल रहा है| 

MSME मंत्री  कौन हैं?

केंद्रीय मंत्री श्री नारायण तातू राणे और राज्य मंत्री श्री भानु प्रताप सिंह वर्मा ने सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय का कार्यभार संभाला|

 MSME Full  Form In Hindi

सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम MSME: Micro, Small & Medium Enterprise

एमएसएमई का मतलब  सूक्ष्म, लघु एवं  मध्यम उद्यम है

MSME  IMPORTANCE

रोजगार (Employment)- पूरे भारत का 45 % रोजगार सिर्फ और सिर्फ MSME सेक्टर से आता है इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि, अगर MSME सेक्टर डूबा तो देश के 45 % लोग बेरोजगार हो जाएंगे|

MSME  के लाभ

1- अगर अगर आप एमएसएमई बिजनेस शुरू करने जा रहे हैं तो बैंक से आपको आसानी से लोन मिल सकता है| 2- MSME लोन पर बैंक ब्याज दर काफी कम होता है

  MSME योजना  के लिए  कौन योग्य है?

 संगठन को कम से कम पिछले 3 वर्षों से ऐसी गतिविधियों में शामिल होना चाहिए और एक अच्छा ट्रैक रिकॉर्ड होना चाहिए|